राजस्थान दिवस पर सांस्कृतिक संध्या में मनचला ने दी बेहत्तरीन भजनों की प्रस्तुतियॉ

Source:PRG Music



राजस्थान दिवस पर सांस्कृतिक संध्या में मनचला ने बेहत्तरीन भजनों की प्रस्तुतियॉ दी
  
  
जालोर:  राजस्थान दिवस पर जिला मुख्यालय पर स्थित  वीरम मंच पर गुरूवार को सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया जिसमें ख्याति प्राप्त भजन गायक मोईनुद्दीन मनचला एण्ड पार्टी ने राजस्थान की ऎतिहासिकता पर आधारित विभिन्न भजन एवं देश भक्ति गीतों की आकर्षक प्रस्तुतियॉ दी जबकि लोक कलाकार ने भवाई नृत्य एवं कालबेलिया नृत्यांगनाओं ने नृत्य कर उपस्थित दर्शकों को आनन्दित कर दिया।           
जिला प्रशासन
, पर्यटन विभाग एवं जालोर नगर परिषद के संयुक्त तत्वावधान में वीरम मंच पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में जिला कलेक्टर अनिल गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक कल्याणमल मीना ने सर्वप्रथम मॉ सरस्वती की तस्वीर पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारभ्भ किया तत्पश्चात ख्याति प्राप्त भजन गायक मोईनुद्दीन मनचला ने दांतलावास के मंगला महाराज की उपस्थिति में गुरू वन्दना एक बार आईजो सतगुरू.......भजन की प्रस्तुती दी वही लोक कलाकार बाबूनाथ ने अपने सिर पर क्रमशः पॉच गिलासे एवं उस पर मटकी रखकर भवाई नृत्य किया। मनचला द्वारा देवी की स्तुति ‘‘चौसठ जोगणी रे........भजन पर बाबूनाथ ने कॉच की गिलासों, थाली, नंगी तलवारों एवं टूटे हुए कॉच के टुकडों पर नृत्य कर दर्शकों को मंत्र मुग्ध कर दिया। 
       
भजन गायक मोईनुद्दीन मनचला ने राजस्थान की वीरता व शान के प्रतीक महाराणा प्रताप पर आधारित अपना चिर परिचित भजन ‘‘ मायड वो थारो पूत कठे, महाराणा प्रताप कठे.......की आकर्षक प्रस्तुती दी वही देश भक्ति गीत भारत का रहने वाला हॅू भारत की बात सुनाता हॅू,,,,,,,,,,, बाबा रामदेव के भजन ‘‘मॉ म्हाने घोडलियों मंगवा दें,,,,,,, एक डाल दो पंछी बैठा......... आदि गीत व भजनों की बेहत्तरीन आकर्षक प्रस्तुतियॉ दी। इस अवसर पर कालबेलिया नृत्यांगनाओं ने काल्यो कूद पडें पडियों मेला में........... गीत पर आकर्षक युगल नृत्य किया। सांस्कृतिक संख्या का संचालन साहित्यकार परमानन्द भट् एवं नूर मोहम्मद ने किया । सांस्कृतिक संध्या के अन्त में कलाकारों एवं राजस्थान दिवस समारोह के तहत सम्पन्न खेलकूद प्रतियोगिता एवं मैराथन दौड में प्रथम व द्वितीय स्थान पर रहने वाले प्रतियोगियों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम के अन्त में जिला कलेक्टर ने सांस्कृतिक संख्या में भाग लेने वाले सभी लोगों का आभार ज्ञापित किया।  
                

सांस्कृतिक संध्या में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरिराम मीना, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी कैलाशचन्द्र शर्मा, जालोर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह, नगर परिषद के आयुक्त त्रिकमदान चारण, जालोर तहसीलदार ममता लहुआ,जालोर विकास अधिकारी सुरेश कविया, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश सोंलकी, जिला रोजगार अधिकारी आनन्द सुथार एवं जालोर नगर परिषद के नेता प्रतिपक्ष मिश्रीमल गहलोत सहित बडी संख्या में अनेक गणमान्य व्यक्ति एवं माता बहिने उपस्थित थी । 

=> खबर पसंद आये तो हमारे फेसबुक पेज को लाइक जरूर करें 

Post a Comment

0 Comments