जोधपुर में आंतकी हमले का प्रयास, जाने क्या हैं सच्चाई

जोधपुर। शहर के रातानाड़ा स्थित पांच बत्ती सर्किल के पास स्थित एक नामचीन होटल में आज अपराह्न में आतंकी घुस आए। उन्होंने फायरिंग करते हुए कुछ विदेशी पर्यटकों को बंधक बना लिया। मौके पर पहुंचे सेना व पुलिस के कमांडों ने चन्द मिनट में ही होटल के बाहर भारी भीड़ के भारत माता के जयकारों के बीच आतंकियों को दबोच लिया। बाद में सच्चाई सामने आई कि यह तो पुलिस का मॉक ड्रिल था। मचा हड़कंप...
- अपराह्न साढ़े चार बजे के आस-पास पुलिस नियंत्रण कक्ष को सूचना दी गई कि रातानाड़ा पांच बत्ती के पास स्थित होटल चन्द्रा ईन में कुछ लोग फायरिंग करते हुए घुस गए है।
- फायरिंग की तेज आवाज काफी दूरी तक सुनाई दी। इससे होटल में ठहरे देशी-विदेशी पर्यटकों में एक बारगी अफरा-तफरी मच गई।
- सूचना देने वाले ने बताया कि फायरिंग करते हुए इन लोगों ने होटल में ठहरे कुछ विदेशी पर्यटकों को बंधक बना लिया है।
- गोलियों की आवाज सुन होटल के बाहर बड़ी संख्या में लोगों का जमावड़ा लग गया। सभी टकटकी लगाए होटल में ताकने लगे।
- सूचना मिलते ही प्रशासन व पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। हथियारबंद पुलिस जवानों के साथ अधिकारी भी तुरंत घटना स्थल पर पहुंच गए।
-  थोड़ी देर में सेना के कमांडों ने पुलिस के साथ मौके पर पहुंच तुरंत मोर्चा संभाल लिया और आतंकियों की टोह लेने में जुट गए। इससे लोगों को एक बार लगा कि आज जोधपुर में वास्तव में आतंकी हमला हो चुका है।
लोगों ने जमकर लगाए भारत माता के जयकारे
- पूरे शहर में सोशल मीडिया पर अफवाहों का दौर शुरू हो गया। इसके बाद हथियारबंद जवानों ने होटल में प्रवेश कर देखते ही देखते आतंकियों को दबोच लिया और उन्हें पकड़ कर बाहर ले आई।
- आतंकियों को पुलिस की पकड़ में देख मौके पर बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने भारत मां की जयकारों से पूरा क्षेत्र गूंजा दिया।
- बाद में पुलिस अधिकारियों ने होटल में ठहरे पर्यटकों सहित लोगों को बताया कि यह पुलिस की मॉक ड्रिल थी। इससे लोगों ने राहत महसूस की और वहां से रवाना हो गए।
- अधिकारियों का कहना है कि वे इसके माध्यम सेे अपनी तैयारियों का जायजा ले रहे थे, ताकि किसी प्रकार की कमी को समय रहते दूर किया जा सके।

Post a Comment

0 Comments