4 बहनों के इकलौते भाई थे शहीद प्रभु सिंह, जन्मदिन से एक दिन पहले मिली शहादत

जोधपुर:  कुपवाड़ा जिले के माछिल सेक्टर में मंगलवार सुबह पाकिस्तान की बार्डर एक्शन टीम ने घात लगाकर हमला किया। गश्त कर रहे 57 आरआर के तीन जवान इस हमले में शहीद हुए।

इनमें जोधपुर जिले की शेरगढ़ तहसील के खीरजां खास गांव के प्रभुसिंह भी हैं। हमले के बाद पाकिस्तानियों ने उनका शव क्षत-विक्षत कर दिया।

शहीद प्रभु सिंह चार बहनों के इकलौते भाई थे। दो साल पहले ही उनकी शादी हुई थी। उनकी आठ महीने की एक बेटी भी है। इस बार छुट्टियों मे वो अपनी छोटी बहन की शादी करना चाहते थे।

शहीद प्रभु सिंह का आज जन्मदिन है।

- शेरगढ़ के खीरजां खास के प्रभूसिंह अपने जन्मदिन के महज एक दिन पहले कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में शहीद हो गए।

- पाकिस्तानियों ने घात लगाकर हमला करने के बाद प्रभूसिंह का शव क्षत-विक्षत कर दिया।- 13 राजपुताना राइफल्स के प्रभूसिंह इन दिनों 57 नेशनल रायफल में तैनात थे।

- मंगलवार को वे अपने दो साथियों के साथ पेट्रोलिंग कर रहे थे और अपनी टीम को वे ही लीड कर रहे थे। इसी दौरान उन पर हमला हुआ था।

Post a Comment

0 Comments